Skip to main content

3 tips for successful business in hindi

3 tips for successful business in hindi


तो 1 successful business के लिए आपको इन तीन चीजों पर काम करना पड़ेगा


tips for successful business in hindi, successful business tips
Successful business tips

1 passion

  successful business के लिए सब से पहले ऐसी फिल्ड चुनो जिसमें आप माहिर हो


💰वो काम जो आपको लगता है कि आप सबसे अच्छे तरीके से और आसानी से कर पाओगे💰वो काम जो आपको लंबे समय तक करने के बाद भी बोरिंग ना लगे💰 वो काम जिसको करके आपको अंदर से खुशी मिलती हो मजा आता हो

आज की तारीख में ज्यादातर लोग अपना काम अपना प्रोफेशन दूसरों को देखकर दूसरों की इनकम को देखकर चुनते हैं वह काम इसीलिए नहीं करते क्योंकि वह करना चाहते हैं वह यह काम इसलिए करते हैं क्योंकि दूसरा उस फील्ड में उस काम में सक्सेसफुल है तो उनकी सक्सेस को ध्यान में रखकर वह काम और फील्ड चुनते हैं जबकि यह एकदम ही गलत तरीका है आप काम वह चुनो जिस काम को लेकर आप एक्साइटेड हो आप पैशनेट हो  सक्सेस 100% मिलेगी

हर एक इंसान में कोई ना कोई यूनीकनेस होती है अपनी उस काबिलियत अपने उस पैशन को ढूंढो जो आपके अंदर है
 और उस फील्ड में काम स्टार्ट करें

कोई भी काम कितना भी छोटा क्यों ना हो लेकिन अगर आप उस काम के लिए पूरे के पूरे पैशनेट और एक्साइटिड है तो आप उस काम में से बहुत ही बड़े लेवल की इनकम कर सकते हैं

तो आपका पूरा का पूरा फोकस काम के ऊपर होना चाहिए ना कि पैसे और इनकम के ऊपर अगर आप चाहते हैं कि आपको ज्यादा से ज्यादा इनकम हो तो आप अच्छे से अच्छा काम कीजिए अपना पूरा फोकस काम के ऊपर रखिए इनकम अपने आप अच्छी आएगी


tips for successful business in hindi, business success tips

2 never give up


आपने वह बात सुनी होगी की एक पानी की बूंद भी जब लंबे समय तक एक पत्थर के ऊपर पढ़ती रहती है तो वह उस पत्थर में भी एक समय के बाद खड्डा कर देती है

ज्यादातर लोग यह गलत ही करते हैं कि वह कोई भी काम जल्दबाजी में स्टार्ट कर देते हैं और उसके बाद जब 5 या 10 दिनों में उनको रिजल्ट नहीं मिलता तो वह उसकी नेगेटिव साइड देखने लगते हैं उसकी कमियों को देखने लगते हैं और यह सोचकर बंद कर देते हैं कि यह नहीं हो पाएगा

 तो आप किसी भी काम को बीच में मत छोड़े लगातार करते रहे इससे यह होगा कि या तो आप सक्सेसफुल हो जाओगे या तो आप फेल हो जाओगे अगर आप फेल हो गए तो आपको उस फेलियर से कुछ ना कुछ सीखने को जरूर मिलेगा

लेकिन अगर आप बीच में छोड़ देते हो तो उसमें आपको कुछ भी नहीं मिलेगा
ना सफलता
ना शिक्षा

जैसे कि कोई छोटे से बच्चे की मां होती हैं
एक छोटा बच्चा संभालना एक बड़ी कंपनी संभाल ले जितना ही मुश्किल होता है
रात रात भर जागना पड़ता है

 लेकिन वह मां कभी भी हार नहीं मानती क्योंकि वह जानती है

कि अगर मैं नहीं करूंगी तो और कौन करेगा
तो जिस दिन आपकी सोच ऐसी हो जाएगी कि
अगर मैं नहीं करुंगा तो और कौन करेगा क्योंकि मुझे सक्सेसफुल होना हे
 उस दिन आप समझो कि आप सक्सेसफुल हो चुके हो

 वह मां कभी यह नहीं सोचती कि

मैं कहां फस गई या मैं बहुत ही थक चुकी हूं इस बच्चे से बिल्कुल भी नहीं

 यह कोई भी मा नहीं सोचेगी इसका सिर्फ एक ही कारण है क्योंकि वह अपने बच्चे से प्यार करती है
बिल्कुल वैसे ही
अगर आपको अपने काम से प्यार है तो आप कभी भी अपने काम से  डीमोटिवेट,परेशान या थकोगे नहीं

अगर हम कोई चीज करना चाहते हैं तो हमारा दिमाग उसको करने के सौ तरीके बताता है
और जब हम कोई चीज नहीं करना चाहते हैं तो हमारा दिमाग उसको नहीं करने के सौ बहाने बनाता है

तो इसीलिए हमने ऊपर कहा कि किसी भी काम को करने के लिए सबसे पहले आप पैसेनेट होने चाहिए

पहले तो आपको सब्र रखना सीखना होगा और लगातार करना सीखना होगा क्योंकि हर काम को करने का एक प्रोसेस होता है
जैसे एक आम के पेड़ को बड़ा होने में और फल देने में एक लिमिटेड टाइम लगता है वैसे ही हर एक काम अपना अपना टाइम लेता है कंप्लीट होने के लिए
तो यह बहुत जरूरी है कि आप काम को लगातार करें बिना रुके रिजल्ट आपको  100% मिलेगा

tips for successful business in hindi,tips for successful business

3 actions


तो ज्यादातर लोग ऐसे होते हैं जिनको अपने आप के ऊपर विश्वास नहीं होता कि वह उस काम को अच्छे से कर पाएंगे या नहीं बस सोचते रहते हैं और स्टडी करते रहते हैं चीजों को

पर काम चालू नहीं करते  actions  नहीं लेते तो इसका कारण होता है उनके अंदर का डर कि अगर कहीं
वह फेल हो गए तो
वह कामयाब नहीं हुए तो

तो इसमें आप को डरने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि अगर आप सक्सेसफुल हो गए तो तो आपके लिए अच्छा ही है लेकिन अगर आप कहीं फेल भी हो जाते हैं तो उससे आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा तो दोनों ही तरीकों में आपका फायदा है

इसको कहते हैं सकारात्मक सोच तो अपनी सोच को हमेशा पॉजिटिव रखें इससे आप कभी भी पनी लाइफ में। Demotivate नहीं होंगे

तो यह अपने दिमाग में बिठा कर चलिए कि दोनों ही सूरतो में मेरा फायदा है और अपना काम चालू कीजिए

और आप कोई भी काम चालू करने से पहले लोगों की या किसी एक्सपर्ट की राय लेते हैं कि मेरा यह काम चलेगा कि नहीं तो हम आपको बता दें कि दुनिया का कोई भी इंसान आपको यह नहीं बता सकता कि आपका यह काम चलेगा कि नहीं  इस सवाल का जवाब आपको सिर्फ और सिर्फ तभी मिलेगा जब आप काम चालू करेंगे actions लेंगे
 उसके बाद ही आपको इस सवाल का सही जवाब मिलेगा कि आपका काम सक्सेसफुल हुआ या फेल

हां आप उसके ऊपर रिसर्च जरूर कर सकते हैं
आप अपनी फील्ड के कितने ही बड़े एक्सपोर्ट क्यों ना हो
 आपके पास कितनी भी नॉलेज क्यों ना हो
लेकिन जब तक आप actions नहीं लेंगे तब तक आपको उसका रिजल्ट नहीं मिलेगा

tips for successful business in hindi, successful business tips

result


तो जब हम इन 3 चीजों पर काम कर लेते हैं

तो अब बारी आती है।result की और result आएगा फोकस से
 बहुत बार ऐसा होता है कि मेहनत करने के बाद भी result नहीं आता

उसका यह कारण है कि हम एक्शन लेने के बाद काम चालू करने के बाद या फिर काम चालू करने के पहले ही हमें अपने आप पर विश्वास नहीं होता क्योंकि किसी भी काम में थोड़ी बहुत मुश्किलें होती है

और हम उन मुश्किलों को देखकर यह सोचने लगते हैं कि मैं कर पाऊंगा या नहीं
या फिर यह बहुत ही मुश्किल है बहुत ही हार्ड है

जबकि हमें इसकी जगह पर यह सोचना चाहिए कि मैं कैसे करूंगा उसको करने के रास्ते निकालने चाहिए जब आप काम को करने के नए-नए रास्ते निकालते हो नए-नए तरीके ढूंढते हो और पूरा का पूरा फोकस मुश्किलों पर नहीं बल्कि अपने काम पर करते हो तो result 100% आएगा

हमें प्रैक्टिकल सोचना चाहिए कि जब लोग कर रहे हैं लोग सक्सेसफुल हो रहे हैं इसका मतलब यह है कि यह पॉसिबल है जब वह कर सकते हैं तो मैं भी कर सकता हूं

यह सोचो कि मुझे करना ही है अगर मैं नहीं करूंगा तो कौन करेगा क्योंकि आपको यहां पर कोई बताने नहीं आएगा जो भी करना है आपको खुद ही करना है पूरे फोकस और विश्वास के साथ करना है और लगातार करना है

 जब तक आप सक्सेसफुल नहीं हो जाते उस फील्ड के अंदर

ज्यादातर लोग काम करते वक्त रिजल्ट के बारे में सोचते हैं कि रिजल्ट आएगा कि नहीं जबकि रिजल्ट हमारे हाथ में नहीं होता हमारे हाथ में होता है काम कि हम उस काम को कितने अच्छे तरीके से कर सकते हैं अपना फोकस हमेशा आप प्रॉब्लम के ऊपर मत रखो बल्कि उस प्रॉब्लम का जो सलूशन है उसको ढूंढने के ऊपर रखो रिजल्ट ऑफ कुछ जरूर मिलेगा बस एक छोटी सी शर्त है की

never ever give.up

Comments

Popular posts from this blog

apne andar ke dar ko kaise nikale

apne andar ke dar ko kaise nikale
apne andar ke dar ko kaise nikale apne andar ke dar ko nikalne के लिए सबसे पहले हमें यह सोचना होगा की दुनिया में डर नाम की कोई चीज होती भी है या नहीं या फिर यह सिर्फ हमारे दिमाग का वहम है😣।  नौकरी छुटने का डर
😣।   हारने का डर
😣।  नुकसान का डर
😣। बेइज्जती का डर
😣। बीमारी का डर
😣। मौत का डर
डर सिर्फ और सिर्फ हमारे अंदर की एक फीलिंग होती है जैसे कि गुस्सा, प्यार, खुशी, दुख यह सब होता है
वैसे ही हमारा डर होता है और यह सब हमारे दिमाग की उपज होती है असलियत में इन सब चीजों का दुनिया में कोई अस्तित्व नहीं है

जैसा आप अपने दिमाग से सोचोगे वैसा आप feel करोगे तो यह सिर्फ और सिर्फ हमारी एक feeling है

कुछ डर हमारे दिमाग के लेवल पर होते हैं और कुछ डर  practical होते हैं

Normally  हमारे अंदर कौन-कौन से डर होते हैं


डर हमको तब लगता है जब हमारे पासSolution नहीं होते

1 कि मैंने इतने सालों तक पढ़ाई की है   डिग्री हासिल की है  तो अब मुझे कोई जॉब मिलेगी या नहीं नहीं मिली तो मैं क्या करूंगा Solution इसके लिए आप पढ़ाई के साथ-साथ कोई भी पार्ट टाइम जॉब कर सकते हो इससे यह फायदा होगा कि …

how to control your mind, आखिर हमारा दिमाग काम कैसे करता है

how to control your mind
आखिर हमारा दिमाग  काम कैसे करता है
क्या आपने कभी सोचा है कि इस दुनिया में कुछ लोग अमीर हैं तो कुछ लोग गरीब हैं कुछ लोग समझदार है तो कुछ लोग बेवकूफ हैं कुछ लोग मेहनती हैं तो कुछ लोग आलसी है ऐसा क्यों हैतो इसका जवाब है दिमागदिमाग होता क्या है आखिर हमारा दिमाग काम कैसे करता है
आपने कई बार अमीर लोग और समझदार लोगों को देखा होगा तो आपने कभी यह नहीं सोचा कि यह लोग हमसे अलग कैसे हैं ऐसा क्या है इनके पास उन्होंने ऐसा क्या किया कि वह इतने अमीर है
क्या इनके पास चार हाथ हैक्या इनके पास दो दिमाग हैक्या वह कोई बड़े-बड़े हाथियों को उठाते हैं क्या वह लोग 24 घंटे तक काम करते हैं कभी सोते ही  नहीं
बिल्कुल भी नहीं सब कुछ सेम है हर एक इंसान एक जैसा होता है वह भी वही काम करते हैं वह भी उतनी ही मेहनत करते हैं जितनी कि एक आम इंसान करता हैबल्कि उनसे भी कम मेहनत करते हैं
तो फिर फर्क क्या है 

फर्क है सोच का आपने पहले से अपने दिमाग में यह बात डाल कर रखी है कि वह कर सकते हैं मैं नहीं कर सकता तो जरा अपने दिमाग से सोच कर देखिए कि आप क्यों नहीं कर सकते सिर्फ एक कारण ढूंढ के दिखाइए हमारा दिमाग और हम…